Bounce Rate क्या है और इसे कैसे कम करें?

Share:

Bounce Rate क्या है और इसे कैसे कम करें?

Bounce Rate Kaise Kam karen
इस article को पढ़ना उन सभी के लिए ज़रूरी होगा जोकि अपना एक blog या एक website चलाते हैं.
क्योंकि आज हम blogging में आने वाले और SEO के एक important factor की बात करने जा रहें हैं, जो है, Bounce Rate.
हम इस article में जानेंगे कि यह क्या होता है और आप इसे बढ़िया traffic प्राप्त करने के लिए और अपने blog से बढ़िया income करने के लिए कम से कम कैसे कर सकते हैं. चलिए सबसे पहले जल्दी से जान लेते हैं कि Bounce Rate क्या होता है.

Bounce Rate क्या होता है?

यह किसी particular website पर उन visitors की percentage होती है जोकि उस site का कोई भी एक page देखने के बाद ही उस site को leave कर जाते हैं. दूसरे शब्दों में कहें, तो ये उन लोगों की percentage होती है जोकि आपकी site पर एक बार में केवल एक ही page को देखते हैं और कहीं और चले जाते हैं.
जैसे मैं उद्हारण लूँ कि हमारी site का bounce rate 55% हैं, इसका अर्थ ये हुआ कि हमारी site को visit करने वाले total number of visitors में से 55% visitors ऐसे हैं जिन्होंने हमारी site पर केवल कोई एक page ही open किया था.
अब आप खुद ही सोचिये, जिस website का bounce rate सबसे कम होगा, उतना ही बढ़िया होगा.
अगर हम ideal bounce rate की बात करें, तो वो 10% से कम होता है. 10% से कम bounce rate प्राप्त करने वाली sites लाखों में से कोई एक होती है. 90% से ज्यादा bounce rate का अर्थ है कि आपकी site पर लोगों का interest नहीं है. आम तौर पर medium level websites का bounce rate 40% से 80% के बीच होता है.
अलग-अलग तरह की websites के लिए bounce rate के आंकड़े कुछ इस प्रकार हैं:
  • Content वाली websites – 40-60%
  • Lead generate करने वाली websites – 30-50%
  • Blogs – 70-98%
  • Retail कारोबार करने वाली sites – 20-40%
  • कोई services provide करने वाली websites – 10-30%
  • Landing Pages – 70-90%
एक बात तो मैंने पहले ही clear कर दी है, bounce rate जितना कम हो, उतना बढ़िया होता है. तो हर एक blogger और webmaster का goal bounce rate को कम से कम करने का होना चाहिए. अब bounce rate को कम करने के तरीकों के बारे में भी जल्दी से जान लेते हैं.

Bounce Rate को कम कैसे करें?

वैसे तो यदि आप Google पर search करेंगे कि bounce rate को कैसे कम करें, तो आपको अलग-अलग websites अलग-अलग तरीके बतायेंगी.
मैंने research के दौरान पाया कि कुछ websites तो तरीके बताने की जगह फ़ालतू में दूसरे topics को add करके article की बस length ही बढ़ा रही थी. इसी कारण से मैंने अपनी complete research को compile करके और मेरी personal judgement के तौर पर आपके लिए bounce rate को कम करने के best तरीके नीचे दिए हैं, और वो भी संक्षेप में.
1.सही visitors को attract कीजिये
आपका goal आपकी website पर ज्यादा से ज्यादा visitors प्राप्त करने का नहीं बल्कि targeted visitors प्राप्त करने का होना चाहिए.
अब आप खुद सोचिये कि कोई games पसंद करने वाला व्यक्ति, science और रीडिंग websites को थोड़ी खोलना चाहेगा. इस लिए अपनी websites पर केवल उन लोगों को लाने की कोशिश कीजिये जोकि आपके niche में interested हों.
  • इसके लिए आप अपने content के लिए सही keywords का चुनाव कीजिये.
  • अपनी website या blog पर बहुत सारे unique content के साथ multiple pages को create कीजिये.
  • Search Engine में show होने के लिए बढ़िया meta description और title दीजिये.
  • आप ज्यादा targeted traffic exposure के लिए advertising का सहारा भी ले सकते हैं.
2. Usability को बढ़िया बनाईये
कोई भी व्यक्ति ऐसी website को खोलना नहीं चाहेगा जोकि दिखने में अच्छी न हो या फिर जिसमे अलग-अलग pages को browse करने का experience अच्छा न हो.
इसके इलवा जिस भी site की navigation अच्छी नहीं होती, लोगों को उसे browse और surf करने में काफ़ी दिक्कत होती है. आपको ऐसा कुछ करना होगा कि आपकी site पर readers को आना और browse करना अच्छा लगे.
बढ़िया fonts का चुनाव कीजिये और अपने text के साइज़ को इतना ज़रूर रखिये कि वो आसानी से पढने योग्य हो.
बहुत ज्यादा bright और बहुत ज्यादा light colors का प्रयोग न कीजिये.
अपनी site की theme में colors और दूसरी visual चीज़ों का combination कुछ ऐसा रखिये कि लोगों को अच्छा लगे और वे आपकी site को और browse करना चाहें.
इस बात को निश्चित कीजिये कि आपकी website responsive हो और हर एक तरह के display और device पर बढ़िया तरीके से खुले. अपनी site को mobile friendly रखना बहुत ही ज्यादा ज़रूरी है क्योंकि आजकल mobile traffic desktop traffic से ज्यादा होता है.
3. Page Load Time को कम से कम कीजिये
Page Load Time किसी भी website के लिए एक बहुत ही ज्यादा important factor है. इसके इलावा Search Engine में भी higher rank करने के लिए आपकी website का loading time कम से कम होना चाहिए, क्योंकि यह एक important SEO factor भी है.
इस सम्बन्ध में आप हमारे नीचे दिए गए articles पढ़ सकते हैं:
  • Website Loading Time को test करने के लिए 3 free tools
  • WP Smush Plugin: अपने blog के Images के loading time को Improve करें
  • Free CloudFlare CDN को WordPress Blog में कैसे Setup करें
4. Quality Content ही provide कीजिये
Quality content provide करना किसी भी website की reputation से जुड़ा होता है. Quality Content के साथ ही आप अपनी website का user base बना सकते हैं और long-term में अपनी website को successfully run कर सकते हैं.
इस सम्बन्ध में कुछ tips नीचे दी गयी हैं और उनके बाद reference के लिए हमारे कुछ useful articles के links भी दिए गएँ हैं:
  • आपकी website के हर एक page का अपना एक unique motive होना चाहिए.
  • आपको आपके content में throughout proper headings और subheadings को use करना चाहिए.
  • Content में particular niche के readers को ही targeted करें और इसके लिए niche specific keywords का ही use करें.
  • अपने content को error फ्री रखें.
  • अपने content में throughout media का भी proper use करें, जैसे कि images और videos.

मुझे बताईये यदि आपके इस पोस्ट के सम्न्बंधित कोई भी प्रश्न आपके मन में है?
हमारे पोस्ट के प्रति अपनी प्रसन्नता और उत्सकता को दर्शाने के लिए कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Google+ और Twitter इत्यादि पर share कीजिये.
ऐसे ही और informational Posts पढ़ते रहने के लिए और नए blog posts के बारे में Notifications प्राप्त करने के लिए हमारे Subscribe कीजिये.
इस blog पोस्ट से सम्बंधित किसी भी तरह का प्रश्न पूछने के लिए नीचे comment कीजिये.